40 C
Delhi
Thursday, April 29, 2021

सिर्फ जिला पंचायत सदस्य बनकर रह जाना मेरा उद्देश्य नही : साक्षी सिंह रघुवंशी #Realviewnews

जरूर पढ़े

यूपी में कोरोना : अब तीन दिन रहेगा लॉकडाउन, 10 प्वाइंट में जानें क्या रहेगा बंद और क्या खुला #Realviewnews

रिपोर्ट - वारीन्द्र पाण्डेय  उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामले नित नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। प्रदेश...

समय कम मिला लेकिन लोगों के दिलों में जगह बनाने में सफल हुई : साक्षी सिंह रघुवंशी #Realviewnews

डोभी, जौनपुर । स्थानीय क्षेत्र के वार्ड संख्या 82 से जिलापंचायत सदस्य पद की उम्मीदवार साक्षी सिंह रघुवंशी ने...

यूपी पंचायत चुनाव: यूके से पढ़ाई और आईआईएम बैंगलोर से एमबीए करने वाली उर्वशी चुनाव में आजमाएंगी किस्मत #Realviewnews

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में पंचायत चुनाव में बाहुबल के साथ-साथ ग्लैमर का तड़का लग चुका है। इसी...

डोभी का विकास कर इसे आदर्श रूप में राष्ट्रीय पटल पर लाना मेरा असली मकसद

डोभी, जौनपुर । त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जनपद के वार्ड 82 से यूं तों बहुत सारे प्रत्याशी अपनी दावेदारी कर रहें है । परंतु उन सभी का उद्देश्य काफी संकुचित और छोटा है । उनके मन में सिर्फ जिलापंचायत सदस्य बनकर रह जाना है ।

        उक्त बातें डोभी क्षेत्र के वार्ड संख्या 82 से प्रत्याशी साक्षी सिंह रघुवंशी ने पत्रकारों कों संबोधित करते हुए कहा ।  उन्होंने आगे कहा कि कुछ प्रत्याशियों से जनता का भावनात्मक जुड़ाव हो गया है, हो सकता है ऐसा प्रत्याशी व्यक्तिगत रूप से अच्‍छा हों परंतु जब बात चुनाव की आती है तों जनता कों यह जानने का हक है कि वह जिसे चुनने की बात कह रहें हैं, अपने क्षेत्र के विकास के लिये उस प्रत्याशी का क्या प्लान है । प्रेसवार्ता के दौरान साक्षी ने मतदाताओं को आगाह करते हुए कहा कि पिछली बार भी हमने ऐसे प्रत्याशी का चयन किया जों सिर्फ एक प्रतिनिधि बनकर रह गया । परंतु विकास कार्यों का क्या हाल हुआ जनता को अच्छे से पता है । साक्षी ने कहा कि महिला सीट पर महिलाओं को खुद आगे आकर चुनाव लड़ना चाहिए । महिलाओं के आड़ में उनके पतियों का चुनाव लड़ना गलत हैं । उन्होंने कहा कि वह अपने व्यक्तिगत पहचान पर चुनाव लड़ रहीं हैं । उनके अंदर डोभी के विकास का सपना है । वह इस क्षेत्र को माडल रूप में विकसित कर राष्ट्रीय पटल पर लाना चाहती हैं । सिर्फ जिलापंचायत सदस्य बनकर सीमित रहना उनका उद्देश्य नही ।  जौनपुर में डोभी कों शिक्षा का केंद्र कहा जाता है । यहां एक से एक विद्वानों का जन्म हुआ ऐसी धरती कों राष्ट्रीय एवं अंतराष्ट्रीय पहचान दिलाना उनका जुनून है । जिसे पूरा करने के लिये सहयोग उन्होंने सहयोग की अपील की ।

     वहीं साक्षी के विषय में व्यक्तिगत रूप से देखा जाये तो हायर एजुकेशन ( बीटेक व एमबीए ) के साथ ही वह बहुराष्ट्रीय कम्पनी में अच्छे पद पर कार्यरत हैं । जो बाकी महिला प्रत्याशियों से उनकों अलग बना रहा हैं । अब देखना यह हैं कि इनकी बातें जनता को कितनी समझ में आती है, और अपने अन्य प्रतिद्वंदियों को साक्षी कितना चुनौती दे पाती हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर

शिक्षा को अवसर में बदलने की चुनौती #Realviewnews

रीयल व्यू न्यूज ।  (शिक्षक दिवस पर आमंत्रित लेख)   लेख - अनिल यादव ( मैनेजमेंट गुरु )   लंबे अरसे के बाद आई...

अन्य

- Advertisement -

खबरे आज की

यूपी में कोरोना : अब तीन दिन रहेगा लॉकडाउन, 10 प्वाइंट में जानें क्या...

रिपोर्ट - वारीन्द्र पाण्डेय  उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामले नित नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। प्रदेश में इन दिनों तीन लाख...

More Articles Like This