18.1 C
Delhi
Wednesday, November 30, 2022

मनीष कुमार बनें जौनपुर के नये जिलाधिकारी, जाने उनके बारे में विशेष #Realviewnews

जरूर पढ़े

जानें आईपीएस अमित लोढ़ा नें कैसे खत्म किया बिहार का जंगल राज

रियल व्यू न्यूज , बिहार । दो दशक पहले शेखपुरा जिले के नवादा और नालंदा के सीमावर्ती इलाका अपराधियों...

शिक्षित समाज की स्थापना में मील का पत्थर साबित होगा आचार्य बलदेव पी.जी.कालेज #RealViewNews

रियल व्यू न्यूज, जौनपुर । सभ्य एवं शिक्षित होना सभी का अधिकार है। इस कथन को सफल बनाने के...

लखनऊ में आयकर विभाग की मास्टरमाइंड महिला कर रहीं थी गोरखधंधा

रियल व्यू न्यूज , लखनऊ। दुस्साहसी महिला एवं उसके साथियों नें आयकर मुख्यालय को ही फर्जी नौकरी देने का...

रिपोर्ट – आयुष सिंह 

रियल व्यू न्यूज, जौनपुर । डीएम दिनेश कुमार सिंह को प्रदेश सरकार ने डीएम जौनपुर से कमिश्नर चित्रकूट बना दिया है। अब आईएएस मनीष कुमार वर्मा को जौनपुर का नया डीएम बनाया गया है। बतौर डीएम उनकी दूसरी तैनाती है।

मनीष कुमार बनें जौनपुर के नये जिलाधिकारी, जाने उनके बारे में विशेष #Realviewnews

गौरतलब हो कि डीएम मनीष कुमार वर्मा वर्ष 2011 बैच के आईएएस हैं। बतौर जिलाधिकारी कौशाम्बी में उनकी पहली नियुक्ति है। इसके बाद वह विशेष सचिव बेसिक शिक्षा बनाए गए हैं। डीएम से पहले पहले वह प्रतापगढ़ व मथुरा के सीडीओ रह चुके हैं। जिलाधिकारी बनने से पहले वह विकास प्राधिकरण नोएडा में अपर मुख्य कार्य पालक पद पर तैनात रहे। कानून व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए रखना, केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं का प्रभावी ढंग से क्रियान्वयन उनकी प्राथमिकता में है। जन शिकायतों का निस्तारण भी प्राथमिकता में शामिल हैं।

जिला अस्पताल में करा चुके हैं पत्नी की डिलीवरी

कौशाम्बी जिले में मनीष कुमार जब डीएम थे तब उन्होंने अपनी पत्नी की डिलीवरी सरकारी अस्पताल में करवा कर एक उदाहरण पेश किया है। उन्होंने अपनी अर्धांगिनी को जिले के सरकारी अस्पताल में शनिवार को भर्ती कराया जहां देर रात उनकी पत्नी ने एक बेटी को जन्म दिया। श्री वर्मा ने प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए यह कदम उठाया था। उन्होंने यह संदेश दिया था कि सरकारी अस्पतालों में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना के तहत ही प्रसव कराएं जिससे उन्हें योजना का लाभ मिल सके।

जिला अस्पताल में करा चुके हैं पत्नी की डिलीवरी ( फाईल फोटो )

बतौर डीएम कौशाम्बी की इस अनूठी पहल ने साबित कर दिया कि आज भी सोच बदलने की जरूरत है कि सरकारी सुविधाएं किसी भी बड़े हॉस्पिटल से कम नहीं है। उनका मानना है कि सरकारी अस्पतालों में भी बेहतर सुविधाएं हैं। बावजूद इसके लोग प्राइवेट हॉस्पिटल की तरफ अंधी दौड़ लगाते हैं। सूत्रों ने बताया कि शनिवार (10 अक्टूबर) की सुबह जब डीएम की पत्नी अंकिता राज को प्रसव पीड़ा शुरू हुई। तब डीएम ने अपनी पत्नी से जिले के सरकारी अस्पताल में प्रसव कराने को कहा, जिसके लिए वो तैयार हो गई।

बच्ची को जन्म देने पर अंकिता राज को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदन योजना के तहत पांच हजार रुपये मिले हैं। हालांकि, डीएम ने कहा कि उन्होंने पैसे पाने के लिए ऐसा नहीं किया बल्कि लोगों को यह संदेश देने की कोशिश की है कि सरकारी अस्पताल में प्रसव कराना चाहिए और सरकारी योजना का लाभ उठाना चाहिए।

विज्ञापन

गांव की जनता करे पुकार,
शिवबालक हों फिर एक बार

उच्च शिक्षा का बेहतर शिक्षण संस्थान, वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय से संबद्ध

आचार्य बलदेव ग्रुप आफ इन्स्टिट्यूशन, कोपा, पतरही, जौनपुर । 

प्रबंधक – अनिल यादव मैनेजमेंट गुरु 

अगर आप बी.टेक, पालिटेक्निक, बीए, बीएससी, बीकाम, एमए, एमएससी, एमकाम के साथ साथ बीएड,  बीटीसी, बी. फार्मा, डी. फार्मा, व अन्य डिप्लोमा के लिए कालेज खोज रहें हैं

तों आज हीं ज्वाइन करें अम्बिका प्रसाद इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी एण्ड पॉलीटेक्निक । 

शाहगंज में बेहतर शिक्षा का हब : अंबिका प्रसाद इंस्टिट्यूट आफ टेक्नॉलजी एंड पालीटेक्नीक #Realviewnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर

शिक्षा को अवसर में बदलने की चुनौती #Realviewnews

रीयल व्यू न्यूज ।  (शिक्षक दिवस पर आमंत्रित लेख)   लेख - अनिल यादव ( मैनेजमेंट गुरु )   लंबे अरसे के बाद आई...

अन्य

जानें आईपीएस अमित लोढ़ा नें कैसे खत्म किया बिहार का जंगल राज

रियल व्यू न्यूज , बिहार । दो दशक पहले शेखपुरा जिले के नवादा और नालंदा के सीमावर्ती इलाका अपराधियों के आपसी वर्चस्व और जातीय...
- Advertisement -

खबरे आज की

More Articles Like This