41 C
Delhi
Thursday, April 29, 2021

उत्तर प्रदेश के 1.57 लाख ग्रामीणों को आज मिलेगी घरौनी, सीएम योगी आदित्यनाथ करेंगे शुभारंभ #Realviewnews

जरूर पढ़े

यूपी में कोरोना : अब तीन दिन रहेगा लॉकडाउन, 10 प्वाइंट में जानें क्या रहेगा बंद और क्या खुला #Realviewnews

रिपोर्ट - वारीन्द्र पाण्डेय  उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामले नित नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। प्रदेश...

समय कम मिला लेकिन लोगों के दिलों में जगह बनाने में सफल हुई : साक्षी सिंह रघुवंशी #Realviewnews

डोभी, जौनपुर । स्थानीय क्षेत्र के वार्ड संख्या 82 से जिलापंचायत सदस्य पद की उम्मीदवार साक्षी सिंह रघुवंशी ने...

यूपी पंचायत चुनाव: यूके से पढ़ाई और आईआईएम बैंगलोर से एमबीए करने वाली उर्वशी चुनाव में आजमाएंगी किस्मत #Realviewnews

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में पंचायत चुनाव में बाहुबल के साथ-साथ ग्लैमर का तड़का लग चुका है। इसी...

लखनऊ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के 11 जिलों के 1001 गांवों के 1,57,244 ग्रामीणों को उनकी आवासीय संपत्ति के मालिकाना हक देने संबंधी ग्रामीण आवासीय अभिलेख (घरौनी) सौंपने की शुरुआत करेंगे। केंद्र सरकार की स्वामित्व योजना के तहत सीएम योगी अपने सरकारी आवास पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम में इनमें से कुछ ग्रामीणों को डिजिटल माध्यम से ग्रामीण आवासीय अभिलेख प्रदान करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 11 अक्टूबर को स्वामित्व योजना का वर्चुअल माध्यम से शुभारंभ करते हुए देश के जिन छह राज्यों के 763 गांवों के लोगों को प्रॉपर्टी कार्ड (घरौनी) का वितरण किया था, उनमें सर्वाधिक 346 गांव उत्तर प्रदेश के थे। तब यूपी के 37 जिलों के इन गांवों के आबादी क्षेत्रों में रहने वाले 41,431 लोगों को उनकी आवासीय संपत्ति के दस्तावेज (ग्रामीण आवासीय अभिलेख/घरौनी) मुहैया कराए गए थे।

इन जिलों के ग्रामीणों को मिलेगी घरौनीजिला : कुल राजस्व ग्राम : ग्रामीणों की संख्या

  • आजमगढ़ : 46 : 3167

  • कौशांबी : 35 : 8987

  • चित्रकूट : 24 : 4414

  • जालौन : 187 : 26275

  • झांसी : 131 : 24565

  • फतेहपुर : 48 : 7733

  • बांदा : 36 : 9953

  • महोबा : 139 : 25100

  • ललितपुर : 183 : 13442

  • वाराणसी : 33 : 1404

  • हमीरपुर : 139 : 32204

बता दें कि स्वामित्व योजना के तहत गांव की आबादी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को दी जाने वाली घरौनी (ग्रामीण आवासीय अभिलेख) में उसकी आवासीय संपत्ति का पूरा ब्योरा दर्ज होगा। ऐसा इसलिए ताकि संपत्ति पर अवैध कब्जे को लेकर झगड़े-फसाद की गुंजाइश न रहे। ग्रामीणों को घरौनी मुहैया कराने की प्रक्रिया को अमली जामा पहनाने के लिए शासन ने उत्तर प्रदेश आबादी सर्वेक्षण एवं अभिलेख संक्रिया नियमावली 2020 को अधिसूचित कर दिया है।

ग्रामीणों को पहली बार मिलने जा रही घरौनी में संपत्ति के स्वामी का जिला, तहसील, ब्लॉक, थाना, ग्राम पंचायत का नाम दर्ज होगा। ग्राम कोड और गांव के नाम का भी उल्लेख होगा। इसमें सर्वेक्षण वर्ष भी अंकित किया जाएगा। संपत्ति का आबादी गाटा संख्या और भूखंड संख्या भी दर्ज होगा। प्रत्येक भूखंड का 13 अंकों का यूनिक आईडी नंबर भी इसमें अंकित किया जाएगा। संपत्ति के वर्गीकरण को भी इसमें दर्शाया जाएगा। जिससे पता चले कि संपत्ति किस श्रेणी या उप श्रेणी की है। आवासीय भूखंड का क्षेत्रफल (वर्ग मीटर में) और उसकी सभी भुजाओं की संख्या और उनकी लंबाई भी खरौनी में दर्ज होगी। भूखंड की चौहद्दी का भी इसमें उल्लेख होगा।

विज्ञापन

अगर आप बी.टेक, पालिटेक्निक, बीए, बीएससी, बीकाम, एमए, एमएससी, एमकाम के साथ साथ बीएड,  बीटीसी, बी. फार्मा, डी. फार्मा, व अन्य डिप्लोमा के लिए कालेज खोज रहें हैं
तों आज हीं ज्वाइन करें अम्बिका प्रसाद इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी एण्ड पॉलीटेक्निक । 
शाहगंज में बेहतर शिक्षा का हब : अंबिका प्रसाद इंस्टिट्यूट आफ टेक्नॉलजी एंड पालीटेक्नीक #Realviewnews
जौनपुर में यदि आप खरे सोने व चांदी के आभूषण खरीदना चाहते हैं तो आज ही आएं – रामबली सेठ आभूषण ( मड़ियाहूं वाले ) पता – के. सन्स के ठीक सामने कलेक्टरी रोड, जौनपुर ।
हमारे यहां सोने के आभूषणों पर वापसी पर कोई कटौती नहीं की जाती हैं – प्रो. राहुल सेठ ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर

शिक्षा को अवसर में बदलने की चुनौती #Realviewnews

रीयल व्यू न्यूज ।  (शिक्षक दिवस पर आमंत्रित लेख)   लेख - अनिल यादव ( मैनेजमेंट गुरु )   लंबे अरसे के बाद आई...

अन्य

- Advertisement -

खबरे आज की

यूपी में कोरोना : अब तीन दिन रहेगा लॉकडाउन, 10 प्वाइंट में जानें क्या...

रिपोर्ट - वारीन्द्र पाण्डेय  उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामले नित नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। प्रदेश में इन दिनों तीन लाख...

More Articles Like This