18.1 C
Delhi
Wednesday, November 30, 2022

आजादी के बाद देश में पहली बार किसी महिला को मिलेगी फांसी, बक्सर से आएगी रस्सी पहली बार महिला को मिलेगी फांसी #Realviewnews

जरूर पढ़े

जानें आईपीएस अमित लोढ़ा नें कैसे खत्म किया बिहार का जंगल राज

रियल व्यू न्यूज , बिहार । दो दशक पहले शेखपुरा जिले के नवादा और नालंदा के सीमावर्ती इलाका अपराधियों...

शिक्षित समाज की स्थापना में मील का पत्थर साबित होगा आचार्य बलदेव पी.जी.कालेज #RealViewNews

रियल व्यू न्यूज, जौनपुर । सभ्य एवं शिक्षित होना सभी का अधिकार है। इस कथन को सफल बनाने के...

लखनऊ में आयकर विभाग की मास्टरमाइंड महिला कर रहीं थी गोरखधंधा

रियल व्यू न्यूज , लखनऊ। दुस्साहसी महिला एवं उसके साथियों नें आयकर मुख्यालय को ही फर्जी नौकरी देने का...
विज्ञापन
जौनपुर में यदि आप खरे सोने व चांदी के आभूषण खरीदना चाहते हैं तो आज ही आएं – रामबली सेठ आभूषण ( मड़ियाहूं वाले ) पता – के. सन्स के ठीक सामने कलेक्टरी रोड, जौनपुर ।
हमारे यहां सोने के आभूषणों पर वापसी पर कोई कटौती नहीं की जाती हैं – प्रो. राहुल सेठ ।

भारत को आजादी मिलने के बाद देश में पहली बार किसी महिला को उसके आपराधिक कृत्यों के लिए फांसी की सजा दी जाएगी । इसके लिए मथुरा की जेल में तैयारियां भी शुरू हो गई हैं । अमरोहा की रहने वाली शबनम को मौत की सजा दी जाएगी । निर्भया के दोषियों को फंदे से लटकाने वाले पवन जल्लाद दो बार फांसी घर का निरीक्षण भी कर चुके हैं ।

यह मामला साल 2008 का है जब अमरोहा की रहने वाली शबनम नाम की महिला ने अप्रैल महीने में प्रेमी के साथ मिलकर अपने ही सात परिजनों की कुल्हाड़ी से काटकर बेरहमी से हत्या कर दी थी । इस मामले में निचली अदालत से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक ने उसकी फांसी की सजा को बरकरार रखा ।

इसके बाद शबनम ने राष्ट्रपति से दया की गुहार लगाई लेकिन अब राष्ट्रपति भवन ने भी उसकी दया याचिका को खारिज कर दी है । यही वजह है कि आजाद भारत के इतिहास में शबनम पहली ऐसी महिला होगी जिसे फांसी की सजा दी जाएगी ।

शबनम की फांसी के लिए पवन जल्लाद दो बार फांसीघर का निरीक्षण कर चुके हैं । उन्हे तख्ते के लीवर में जो कमी दिखी उसे जेल प्रशासन ने ठीक करवा दिया है । फांसी देने के लिए बिहार के बक्सर से रस्सी मंगवाई जा रही है ताकि कोई अड़चन ना आए ।

बता दें कि मथुरा में महिलाओं के लिए फांसीघर आजादी से पहले करीब आज से 150 साल पहने बनवाया गया था लेकिन वहां अब तक किसी को फांसी दी नहीं गई है।  शबनम को फांसी देने को लेकर मथुरा जेल के अधीक्षक शैलेंद्र कुमार मैत्रेय ने बताया कि अभी फांसी की तारीख तय नहीं की गई है और ना ही कोई आदेश आया है लेकिन जेल प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है । डेथ वारंट जारी होते ही शबनम को फांसी दे दी जाएगी ।

विज्ञापन

यदि आप अपने बच्चों के प्राथमिक शिक्षा के लिये विद्यालय तलाश रहें हैं तों आज ही सम्पर्क करें – 

चन्दवक में प्राथमिक शिक्षा का सर्वश्रेष्ठ संस्थान बाबा गणेश राय शिक्षा निकेतन में ।
आधुनिक सुविधाओं से लैस हमारे विद्यालय द्वारा हम बच्चों में शिक्षा के साथ संस्कार विकसित करनें के लिये कटिबद्ध हैं – सत्यदेव पाण्डेय ( प्रधानाचार्य ), बीजीआर शिक्षा निकेतन, चन्दवक, जौनपुर ।

विज्ञापन – शिवबालक यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर

शिक्षा को अवसर में बदलने की चुनौती #Realviewnews

रीयल व्यू न्यूज ।  (शिक्षक दिवस पर आमंत्रित लेख)   लेख - अनिल यादव ( मैनेजमेंट गुरु )   लंबे अरसे के बाद आई...

अन्य

जानें आईपीएस अमित लोढ़ा नें कैसे खत्म किया बिहार का जंगल राज

रियल व्यू न्यूज , बिहार । दो दशक पहले शेखपुरा जिले के नवादा और नालंदा के सीमावर्ती इलाका अपराधियों के आपसी वर्चस्व और जातीय...
- Advertisement -

खबरे आज की

More Articles Like This