30.1 C
Delhi
Thursday, August 5, 2021

अगले वर्ष 31 जनवरी तक नहीं रूलाएंगी प्याज की ऊंची कीमतें, केंद्र सरकार ने लिया यह अहम फैसला #Realviewnews

जरूर पढ़े

डोभी सीएचसी को मिला लगतार चौथी बार काया – कल्प # Realviewnewsअवार्ड पूर्वांचल में प्रथम व प्रदेश में चौथा स्थान किया प्राप्त

लगातार चौथे वर्ष सीएचसी डोभी पूर्वांचल में प्रथम व प्रदेश में प्राप्त कियाचौथा स्थान चंदवक, जौनपुर। भारत सरकार की...

पुलिस से मारपीट करने के आरोप में दो प्रधान सहित आठ पर मुकदमा दर्ज | #Realviewnews

      पांच को पुलिस ने किया गिरफ्तार, तीन फरार बड़वा,भगतौली व बलरामपुर में पुलिस, पीएसी तैनात चंदवक, जौनपुर। थाने के गेट के सामने...

सपा सरकार बनेगी तो फूलन देवी के नाम पर स्मारक स्थल व प्रतिमा लगेंगी —-डा. राजपाल कश्यप#Realviewnews

जौनपुर । समाजवादी पिछड़ा वर्ग के प्रदेश अध्यक्ष राजपाल कश्यप समाजवादी कुटिया में आयोजित पूर्व सासंद वीरांगना फूलन देवी...

नई दिल्ली, पीटीआइ । घरेलू बाजार में आपूर्ति सुनिश्चित करने और कीमतें थामने के लिए सरकार ने प्याज आयात पर छूट 31 जनवरी तक बढ़ाने का फैसला किया है। सरकार ने 21 अक्टूबर को प्याज आयात के कुछ प्रावधानों में छूट का एलान किया था। यह छूट 15 दिसंबर तक के लिए दी गई थी। कृषि मंत्रालय ने कहा कि आयात प्रावधानों में छूट सशर्त होगी। भारत आने वाले कंसाइनमेंट को जांचा जाएगा और कीट आदि से मुक्त होने पर ही उन्हें बाजार में आने की अनुमति मिलेगी। जांच में कोई भी खामी पाए जाने पर कंसाइनमेंट वापस भेज दिया जाएगा।कृषि मंत्रालय ने गुरुवार को आधिकारिक बयान जारी कर कहा कि बाजार में प्याज की ऊंची कीमतों को लेकर आम लोगों में चिंता है। इसी को ध्यान में रखते हुए प्याज आयात नियमों में दी गयी ढील को अब 31 जनवरी, 2021 तक के लिए बढ़ाया जा रहा है।

मंत्रालय के मुताबिक आयात नियमों में दी गई ढील कई तरह की शर्तों पर आधारित है। इन शर्तों के तहत आयातकों से यह शपथपत्र भी लिया जाएगा कि आयातित प्याज का इस्तेमाल केवल खपत के लिए किया जाएगा।

निजी कारोबार के जरिए प्याज का आयात हो रहा है। नई फसल पहुंचने के साथ देश के कुछ हिस्सों में प्याज की कीमतों में कमी आनी शुरू हो गई है। उदाहरण के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्याज का भाव 40 रुपये प्रति किलोग्राम के नीचे आ गया है। इससे पहले अक्टूबर में प्याज की कीमतें 65-70 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर तक पहुंच गयी थीं। इसके बाद सरकार ने आयात से जुड़े प्रावधानों में छूट की घोषणा की थी।

विज्ञापन

उच्च शिक्षा का बेहतर शिक्षण संस्थान, वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय से संबद्ध
आचार्य बलदेव ग्रुप आफ इन्स्टिट्यूशन, कोपा, पतरही, जौनपुर । 
प्रबंधक – अनिल यादव मैनेजमेंट गुरु 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर

शिक्षा को अवसर में बदलने की चुनौती #Realviewnews

रीयल व्यू न्यूज ।  (शिक्षक दिवस पर आमंत्रित लेख)   लेख - अनिल यादव ( मैनेजमेंट गुरु )   लंबे अरसे के बाद आई...

अन्य

- Advertisement -

खबरे आज की

More Articles Like This